Ad

8 CORONA VIRUS के सबसे बड़े झूठ जिन पर आप यकीन करते हो । biggest lies of covid-19 diseases

8 CORONA VIRUS के सबसे बड़े झूठ जिन पर आप यकीन करते हो । biggest lies of covid-19 diseases

हेलो दोस्तों स्वागत है आपका स्वागत है हमारे एक और नए factoguru.com के मजेदार और ज्ञान से भरपूर पोस्ट 8 Most common and seemingly truthful rumours about corons virus में दो,आज मैं आपको कोरोना वायरस से जुड़े 8 ऐसी झूठ बातों के बारे में बताऊंगा।
8 CORONA VIRUS के सबसे बड़े झूठ जिन पर आप यकीन करते हो । biggest lies of covid-19 diseases

इसे भी पढ़े - 55 ऐसे रोचक तथ्य जिस पर यकीन करना मुश्किल होगा

दोस्तों इस कोरोना ने तो पूरी दुनिया का नाक में दम कर रखा है 210 देश 26 लाख से ज्यादा cases और 1लाख 80 हजार से ज्यादा मौतें और यह वायरस पूरे विश्व में आग की तरह फैल रहा है फिलहाल हमारे देश मे बाकी देशों से स्थिति थोड़ी ठीक है लेकिन कई देश infect कई वर्ल्ड सुपर पावर देश जैसे अमेरिका इटली स्पेन और यूरोप के  कई सुपर पावर देश जो medically एडवांस है वे सब भी देश अपने पेशेंट को अपने अस्पताल में आसरा नहीं दे पा रहे हैं यहां तक कि डॉक्टरों को यह भी चुनना पड़ रहा है कि किसे बचाय और किसे नहीं क्योंकि एक बार में ही इतनी ज्यादा केश का आ जाना और मेडिकल किट और बैड इतनी संख्या में ना होना यह सब और भी भयानक मोड़ पर ले जाती है और ऐसी परिस्थिति हमारे देश में ना हो इसके लिए हम से हो सके तो सही और सकारात्मक चीजें अपनानी होगी और यह शुरू होता है सही जानकारी हासिल करने से और करो ना से जुड़े दुनिया भर के गलत बातें और अंधविश्वास से दूर रहने से आज इंटरनेट पर करो ना एक बहुत ही ट्रेंडिंग टॉपिक हो गया है जिसके मन में जो भी आ रहा है वह लिख दे रहा है और अगर आप न्यूज़ चैनल खोलें या फिर इंटरनेट पर करो ना टाइप करते ही आपको भर भर के बुरी खबरें दुख दर्द और सबसे बड़ी चीज है डर क्योंकि डर जो फैलाया जा रहा है अंधविश्वास लोगों द्वारा उनका सच्चाई से दूर दूर तक कोई वास्ता नहीं है

लेकिन यहां सब खबर पूरी नहीं है दोस्तों कुछ और भी ज्यादा सर्च करने पर आपको मिलेगी कुछ उम्मीद की किरण जैसे घरेलू नुस्खे जो आपको कोविड-19 कोरोना वायरस से बचा सकती है आपको कोरोना से बचना है ना इसमें कौन सी बड़ी बात है बस दिन-रात चाय पीते रहो। अरे नहीं नहीं चाय कहां आप शराब पीते रहो क्योंकि दारु पीने से शरीर में गर्माहट आते हैं और इतना गर्माहट कोरोना कहां जिंदा रहने वाला और यही न्यूज़ तुम आपको यूट्यूब पर कुछ ऐसे वीडियोस भी मिल जाए जिसमें डॉक्टर फुल डॉक्टर के कपड़े सूट पहन कर आपको अजीब अजीब नुस्खे बताते रहेंगे और इसलिए हम आज के इस आर्टिकल में ऐसे ही वायरल हो रहे अंधविश्वास जैसी चीजों पर आज पर्दा उठाएंगे और आपसे मैं विनती है कि आप इस आर्टिकल पूरा पढ़ें क्योंकि आधा ज्ञान सबसे खतरनाक होता है

8 Most common and seemingly truthful rumours about corons virus

1. coronaviruslivesinthe throat for 4 day.drink lots of water so the virus is pushed into the stomach where the acid will kill it-

ANS- Well यह मिथ मैंने खुद अपने कई दोस्तों से सुना है और व्हाट्सएप पर भी इस तरह के मैसेज काफी वायरल हो रहे हैं जबकि यह मिथ बिल्कुल ही गलत है कोरोनावायरस हो या फिर कोई भी virus हो वह सबसे पहले आपके अंदर जाते ही आपके host cell यानी कि आपके कोशिकाओं में घुसता है और फिर वहां जाकर वह अपना डेरा बसाता है आपके गले के सतह पर नहीं क्योंकि यह वायरस है ना की किसी तरह का कीड़ा आप चाहे कितना भी पानी पी ले यह घुलकर आपके पेट में नहीं जाएगा पानी ज्यादा जरूर पीना चाहिए क्योंकि यह आपको स्वस्थ रखेगा इसलिए नहीं क्योंकि यह को करुणा से बचाएगा इसके अलावा अभी तक किए गए कोई भी रिसर्च में यह बात साबित नहीं हुई है कि कोरोनावायरस आपके गले में 4 दिन तक रहता है और यह खबर बिल्कुल ही गलत है DR.PERPETUA EMEAGI । LIVERPOOL HOPE UNIVERSITY में HUMAN BIOLOGEY के LECTURER है उनका यह कहना है कोरोना वायरस एक व्यक्ति को ग्रसित करने पर उसके गले में ही नहीं बैठा रहता है उनके lungs यानि फेफड़े मे फैल जाता है और यह वायरस सबसे ज्यादा फेफरे ko infect करता है इसलिए इस वायरस से ग्रसित लोगों को श्वास लेने में तकलीफ होती है।

2. Gargling with hot salt water-गर्म नमक पानी के साथ Gargling।

ANS- दोस्तों क्या आपको सही नहीं है लगता है कि यह वायरस है जिससे 199 देश परेशान है और लाखों लोगों के नार्को दम करके रखा है जिसका अभी तक कोई इलाज नहीं वह सिर्फ गुलगुले नमकीन पानी से गलाला करने से मर जाएगा मेरा मतलब थोड़ा तो सोचिए दोस्तों अगर इसका इलाज कितना आसान होता फिर तो क्या ही बात थी क्योंकि पूरी दुनिया में लॉक डाउन पर लॉक डाउन लगाया जा रहा है और जिससे पूरी दुनिया के देशों की अर्थव्यवस्था गिरती जा रही है ऐसी झूठी अफवाहों से दोस्तों दूर ही रहो गरम पानी और नमक से गला ले करना आम सर्दी खासी मैं थोड़ी राहत जरूर देती है लेकिन याद करोना को मार सकेगा नहीं दोस्तों गलाला करने से गला साफ जरूर होता है लेकिन जैसा हमने बताया कि कोरोना आपके सिर्फ गले में ही नहीं रहता है या आपके मांस पेशियों में बने कोशिकाओं में तुरंत अपना बसेरा बना लेती है और यह कोरोना जैसे वायरस का कोई रामबाण इलाज नहीं है

3. Using cow dung and cow urine can cure corana virus-गोबर और गोमूत्र के प्रयोग से कोरा वायरस ठीक हो जाता है।

ANS- 16 मार्च 2020 को BJP के एक लीडर narayan chatterjee ने कोलकाता में गोमूत्र पीने का आयोजन रखा प्रोग्राम में सभी लोगों को गोमूत्र पिलाया गया और नारायण चटर्जी ने गोमूत्र पीने के सभी फायदे बताएं और उन्होंने यह भी बताया कि यह गोमूत्र इसने कोरोनावायरस से भी बचाएगा लेकिन कार्यक्रम में मौजूद एक आदमी पिंटू प्रमाणिक ने जब य हैं गोमूत्र पिया तो उसके अगले ही दिन वह बीमार हो गया फिर उसने पुलिस के पास जाकर बीजेपी नारायण चटर्जी के खिलाफ एक कंप्लेन जारी किया क्या अब आपको भी लगता है एक गोमूत्र या गाय का गोबर से आपको कोरोनावायरस से बचाएगा इसका अभी तक कोई भी scientific प्रूफ नहीं है दोस्तों और इन सब चीजों को मानने पर एक तरह का अंधविश्वास ही कहलाएगा

4. Drinking tea does not make karona-चाय पीने से करोना नहीं होता है।

ANS- दोस्तों कई दिनों पहले मुझे एक व्हाट्सएप पर फॉरवर्ड मैसेज आया उसमें लिखा है कि चाय पीने से कोरोना वायरस नहीं होता और और उस मैसेज में इस तरह से बताया गया था कि यह पोस्ट की जानकारी अमेरिका की मशहूर न्यूज़ चैनल CNN के ऑफिशियल पेज पर से लिया गया है जिसमें कहा है कि चाइना के एक डॉक्टर DR. LI WENLIANG पूरी दुनिया के हीरो हैं क्योंकि उन्हें कोरोनावायरस में बहुत पहले ही पता चल गया था और उसने यह सच्चाई पूरी दुनिया को बताने की कोशिश भी की लेकिन चीन ने उसका मुंह बंद कर दिया और वह खुद कोरोना से संक्रमित होकर मर गए लेकिन उसके रिसर्च पेपर्स में स्टडी किया गया तो उसमें लिखा था कि कुछ केमिकल जैसे कि METHYLXANTHINE,THEOBROMINE और THEOPHYLLINE 
एक लो इम्यूनिटी वाले इंसान को भी कोरोनावायरस से बचा सकता लेकिन मजे की बात यह है दोस्तों आपने जो भी इस केमिकल का नाम पड़ा है जो पढ़ने में भी बड़ा मुश्किल लग रहा है उसे असल में हमारे भारत में चाय के नाम से जानते हैं जी हां यह सारे केमिकल हमारे चाय में मौजूद होते हैं और तो और चीन में भी सभी कोरोना मरीज को दिन में तीन-तीन बार चाय पिलाया जाता था इसलिए वह आज काफी हद तक कोरोनावायरस से मुक्त हो पाया है
अब व्हाट्सएप द्वारा भेजे गए मैसेज से बाहर निकलते हैं दोस्तों और आते हैं सच्चाई पर दोस्तों चाहिए सच में सही है जब मैंने खुद सीएलएन के ऑफिशियल वेबसाइट और टि्वटर हैंडल पर इसकी जांच पड़ताल की तुम मुझे वहां पर इस तरह की कोई भी जानकारी नहीं मिली infect कहीं पर भी यह स्पष्ट नहीं किया गया है की डॉक्टर ली वेनलियांग कोरोना वायरस पर रिसर्च कर ही रहे थे कि नहीं क्योंकि वह एक आई स्पेशलिस्ट डॉक्टर थे यानी कि वह सिर्फ आंखों का इलाज करते थे वायरस और किसी बीमारी का इलाज उनसे दूर तक कोई वास्ता नहीं था और दोस्तों अगर आप गूगल करोगे तो आपको कोई govermemt कोई ऑफिशियल साइट नहीं मिलेगा जहां पर यह सब लिखा हो कि चाइना में मरीजों को तीन बार चाय पिलाई जा रही है नहीं आपको इस डॉक्टर के बारे में कोई ऑफिशियल जानकारी मिलेगी क्योंकि यह एक सरासर अफवाह है

5. If you can hold your brrath for10 seconds without discomfort, you're fine-यदि आप बिना किसी असुविधा के 10 सेकंड के लिए अपना सांस रोक सकते हैं, तो आप ठीक हैं

ANS-दोस्तों यह भी एक व्हाट्सएप फॉरवर्डिंग मैसेज है यह भी बहुत ज्यादा वायरल हो रहा है दोस्तों जो आपको घर बैठे बैठे ही बस 10 सेकंड में बता देगा कि आपको कोराना मुक्त हो या नहीं बस आपको करना यह है कि आपको बस एक लंबी सांस लेना है और उसे 10 सेकेंड तक अपने अंदर ही रोक के रखना है अगर आप ऐसा करने में कामयाब होगा तो मुबारक हो आप कोराना मुक्त हो अब यार मैं क्या ही बताओ अगर आप समझदार हो तो आप सब समझ गए होगे कि अगर इस बीमारी का टेस्ट इतना आसान होता तो इतने दुनिया भर के सरकार करोड़ों रुपए जो इस टेस्टिंग पर खर्च कर रही है 2 से 3 दिन कब वक्त लग रहा है इसकी रिपोर्ट आने में क्या वह सब मूर्ख हैं यह सब करने में कितना ज्यादा नुकसान हो गया है देश को पता है आपको इस कोरोना वायरस कि जल्द से जल्द पता लगाया जा सके उसके ऊपर काफी साड़ी रिसर्च चल रही है दोस्त मेरी सलाहकार मानो तो आप इन सब बातों पर बिल्कुल मत आना क्योंकि एक्सपर्ट डॉक्टर्स का कहना है कि बहुत से कोरोना वायरस से ग्रसित पेशेंट खुद 10 सेकंड से ज्यादा समय तक सांस रोक पाते हैं बिना किसी परेशानी के लेकिन कई बुजुर्ग लोग जिन्हें फेफड़ों में कोई बीमारी है और उसे कोई भी कोरोना वायरस नहीं है तो वह 10 second तक सांस नहीं रोक पाते हैं तो उसका corona से कोई लेना देना नहीं है टेस्ट करके खाने पर बैठे मत रहे अगर आपको या किसी को कोरोनावायरस अभी लक्षण दिखाई दे तो तुरंत अपने डॉक्टर से चेक करवाएं

6. Can drinking alcohol stop crona virus?

ANS- दोस्तों मेरे हिसाब से यह अफवाह तब से शुरू हुआ जब CDC यानी CENTRE FOR DISEASE CONTROL AND PREVENTION इन्होंने यह पब्लिकली अनाउंस किया की सैनिटाइजर जो 60% ALCOHOL से बने होते हैं वही कोरोना से बचने के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं तब से काफी सारे व्हाट्सएप और फेसबुक पर इस तरह के अफवाह फैलने शुरू हो गए की अल्कोहल यानी शराब पीने से कोरोना मर जाता है, लेकिन दोस्तों इसका भी कोई वैज्ञानिक सबूत नहीं है हां किसी साबुन और पानी से 20 सेकंड तक हाथ धोने से यह कोरोना वायरस आपके हाथों से साफ हो जाता है और आप ऐसी जगह जाते हैं जहां पर पानी से हाथ धोना पॉसिबल नहीं है तब आप उस जगह पर अल्कोहल युक्त सैनिटाइजर का यूज कर सकते हैं अल्कोहल कोरोनावायरस के अनुभवों को तोड़कर उसे मार देता है जिससे आपको इनफेक्ट नहीं हो पाता है लेकिन जब एक बार यह वायरस आपके अंदर चला गया तब आप जितनी जी चाहे शराब भर भर के पी लो यह वायरस नहीं मरने वाला हां ज्यादा शराब पीने से आप बीमार जरूर पड़ जाओ माफ कीजिएगा लेकिन यही सच्चाई है जहां तक हो सके नशीली पदार्थों का सेवन करना थोड़ा बंद कर दो इससे आपका इम्यूनिटी सिस्टम मजबूत होगा जिससे आप ऐसी बीमारियों से लड़ पाए

7. EATING GARLIC CAN CURE CORONAVIRUS

ANS- “साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट” चाइना का सबसे पॉपुलर अखबार है उसी ने एक चीनी औरत की एक story पोस्ट की क्योंकि उसने कोरोना से बचने के लिए पूरे डेढ़ किलो लहसुन का सेवन किया और उसका नतीजा यह हुआ कि उसके गले में सूजन हो गया और उसको तुरंत हॉस्पिटल में एडमिट किया गया अब देखा जाए लहसुन को सदियों से ही एंटीबैक्टीरियल एंटी वायरल के रूप में इस्तेमाल किया गया है सर्दी और खांसी से बचने के लिए लहसुन में मौजूद ALLICIN एक खास तरह का कंपाउंड जो हमारे शरीर में मौजूद वाइट ब्लड सेल्स यानी रोग से लड़ने की क्षमता को मजबूत बना देता है जिससे हमारा सर्दी जुखाम जल्द से जल्द ठीक हो जाता हैलेकिन यहां गौर करने वाली बात यह है कि लहसुन हमें बस कुछ ही वायरस और बैक्टीरिया से बचा सकता है और अब तक ऐसा कोई भी प्रमाण नहीं है कि लहसुन हमें कोरोनावायरस से बचा सकता है इसलिए आप सामान्य तौर पर लहसुन खा सकते हैं थोड़ी मात्रा में अपनी इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए लेकिन इससे कोरोनावायरस से बचने का इलाज मत समझ लीजिएगा और इसका इस्तेमाल ज्यादा मात्रा में भी मत कीजिएगा वरना आप कोरोना से तो बाद में सबसे पहले आपको लहसुन से होने वाले सूजन का सामना करना पड़ेगा

*डॉक्टर क्यों बढ़ावा नहीं देना चाहते इन झूठी अफवाहों को-
दोस्तों डॉक्टर्स इन झूठी अफवाहों को बढ़ावा नहीं देना चाहते क्योंकि लोग इन झूठी अफवाहों को सच मानकर निश्चिंत हो जाते हैं कि अब उन्हें कोरोनावायरस नहीं है और लोग इन सब चीजों का पालन नहीं करते जो वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन ने करने को कहा है जैसे सोशल डिस्टेंस यानी लोगों से दूरी बनाए रखना मास्क लगाना सैनिटाइजर का यूज़ करना आदि

8. THE CRONAVIRUS WILL GO AWAY IN THE SUMMER WHEN ITS WARM

ANS- 2003 के मार्च में शुरू हुआ SARS OUTBREAK , जो कि एक तरह का कोरोना वायरस से ही मिलता जुलता वायरस है और यह वायरस ताइवान में सीधे जून के महीने में खत्म हुआ क्योंकि ताइवान में जून के महीने में गर्मी होने लगती है शायद इसीलिए कुछ डॉक्टर्स का मानना है की यह कोरोनावायरस भी सार्स की तरह गर्मी आते ही खत्म हो जाएगा इसके अलावा कुछ साइंटिस्ट द्वारा किए गए रिसर्च जिनमें उन्होंने पुराने कोरोना वायरस यानी सर्दी खांसी के वायरस पे जब रिसर्च किया तबीयत पाया गया की गर्मी के दिनों में वायरस और इम्यूनिटी पर हल्का सा असर दिखता है ठंडे देशों में हवा बहुत ही dry होती है इसलिए ठंडे माहौल में कोरोना जैसे वायरस को हवा में ज्यादा देर रहने में मदद करती है लेकिन दोस्तों वही अभी हाल में DR.MICHAEL RYAN जो कि वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन के इमरजेंसी हेल्थ प्रोग्राम में है उन्होंने ऑफीशियली कहा है की अभी तक हमें कोई भी ऐसी पक्की खबर नहीं मिली है कि गर्मियों का कोरोनावायरस पर कुछ असर होता है कि नहीं
इसलिए दोस्तों हमारे लिए अभी अब एक ही रास्ता है कि हमें किसी गर्मियों के इंतजार ना करके हमें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है अपने इम्यूनिटी को बढ़ाना है अच्छी-अच्छी चीजें और फल खाना हैऔर झूठी अफवाहों के चक्कर में नहीं फसना है और सरकार के दिए गए निर्देश का पालन करना है क्योंकि जान है तो जहान है हमें इनके साथ खेलना नहीं चाहिए क्योंकि जिंदगी से एक ही बार मिलती है इसलिए हमें स्वस्थ रहना है सुखी रहना
तो आज के लिए बस इतना ही अगर आपको हमारे दिए गए जानकारी पसंद आए तो प्लीज हमारे इस वेबसाइट को अपने दोस्तों तक भी पहुंचाए ताकि उन्हें भी इन अफवाहों से बचाया जा सके और उन्हें भी कुछ पता चल सके और आप इस वेबसाइट पर बने रहना चाहते हैं तो इस वेबसाइट को अपने बुकमार्क में सेव कर ले और हमें इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर ले दोस्तों हम इसका अगला पार्ट बहुत जल्द लाने वाले हैं जिसमें हम यह बताएंगे कि आप अपने इम्यूनिटी को कैसे बढ़ा सकते हैं और किन-किन चीजों का पालन कर सकते हैं इससे भी ज्यादा और भी मजेदार अगली पोस्ट आने वाली है।
   🙏अभी तक बने रहने के लिए धन्यवाद🙏

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ